Contact Us: 0532-2465524, 25, M.-9335140296    
E-mail : ssgcpl@gmail.com

11वें हिंदी सम्मेलन का मीडिया लांच कार्यक्रम

May 26th, 2018
11th World Hindi Conference
  • वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 10 अप्रैल, 2018 को भारतीय विदेश मंत्रालय ने जवाहरलाल नेहरू भवन में 11वें विश्व हिंदी सम्मेलन का मीडिया लांच कार्यक्रम आयोजित किया गया।
  • उद्देश्य
  • हिंदी को अंतरराष्ट्रीय भाषा के रूप में बढ़ावा देना तथा संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषा के रूप में मान्यता दिलाने के लिए एक सशक्त मंच प्रदान करना एवं अंतरराष्ट्रीय भाषा के रूप में हिंदी का संवर्धन और परीक्षण करना है।
  • विदेशों में भारतीय दूतावास विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन करते हैं तथा सभी कार्यालयों में विभिन्न विषयों पर हिंदी के लिए अनूठे कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।
  • पृष्ठभूमि
  • विश्व हिंदी सम्मेलन की परिकल्पना राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा महाराष्ट्र द्वारा वर्ष 1973 में की गई थी।
  • जिसके फलस्वरूप राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा के तत्वावधान में प्रथम हिंदी सम्मेलन 11-12 जनवरी, 1975 के मध्य नागपुर, महाराष्ट्र में आयोजित किया गया था।
  • महत्वपूर्ण तथ्य
  • इस कार्यक्रम की मुख्य अतिथि माननीया भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज थी।
  • इसमें विशेष अतिथि मॉरीशस गणराज्य की माननीया शिक्षा व मानव संसाधन, तृतीयक शिक्षा एवं वैज्ञानिक अनुसंधान मंत्री श्रीमती लीला देवी ढुकन लछुमन थ़ी।
  • 18-20 अगस्त, 2018 के मध्य 11वें विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन मॉरीशस में किया जाएगा।
  • इस सम्मेलन का आयोजन स्थल ‘‘स्वामी विवेकानंद अंतरराष्ट्रीय सभा केंद्र’’ पाई, मॉरीशस है।
  • ज्ञातव्य है कि 11वें विश्व हिंदी सम्मेलन को मॉरीशस में आयोजित करने का निर्णय सितंबर, 2015 में भोपाल, मध्य प्रदेश में आयोजित 10वें विश्व हिंदी सम्मेलन में लिया गया था।
  • इस कार्यक्रम के तहत 11वें विश्व हिंदी सम्मेलन की वेबसाइट एवं ‘‘लोगो’’ का लोकार्पण श्रीमती सुषमा स्वराज, माननीया, विदेश मंत्री, भारत सरकार एवं श्रीमती लीला देवी ढुकन लछुमन, माननीया शिक्षा एवं मानव संसाधन, तृतीयक शिक्षा एवं वैज्ञानिक अनुसंधान मंत्री, मॉरीशस गणराज्य द्वारा संयुक्त रूप से किया।
  • 11वें विश्व हिंदी सम्मेलन के लिए विदेश मंत्रालय नोडल मंत्रालय है।
  • वेबसाइट के लांच के साथ ही 11वें विश्व हिंदी सम्मेलन में प्रतिभागिता के लिए एक औपचारिक शुरुआत हुई।
  • इस सम्मेलन का मुख्य विषय, ‘‘वैश्विक हिंदी और भारतीय संस्कृति’’ है।
  • 11वें विश्व हिंदी सम्मेलन में एक विषय ‘‘भोपाल से मॉरीशस’’ रखा गया है।
  • इसके अंतर्गत भोपाल में आयोजित 10वें विश्व हिंदी सम्मेलन में गठित समितियां अपने कार्य का लेखा-जोखा प्रस्तुत करेंगी।
  • 11वां विश्व हिंदी सम्मेलन तकनीक और डिजिटल प्रकाशन को समर्पित होगा।
  • भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद द्वारा ‘‘गगनांचल’’ का विशेष अंक इस सम्मेलन को समर्पित होगा।
  • भारत के अलावा मॉरीशस ही विश्व का एक मात्र देश है जहां तीसरी बार विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन हो रहा है।
  • इससे पूर्व अगस्त, 1976 में द्वितीय विश्व हिंदी सम्मेलन तथा दिसंबर, 1993 में चतुर्थ विश्व हिंदी सम्मेलन पोर्ट लुई, मॉरीशस में संपन्न हुआ था।
  • विश्व हिंदी दिवस तथ्य
  • विश्व में हिंदी के प्रचार-प्रसार हेतु प्रथम हिंदी सम्मेलन 10 जनवरी, 1975 को नागपुर, महाराष्ट्र में आयोजित किया गया था।
  • इसी कारण 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया।
  • उल्लेखनीय है कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 10 जनवरी, 2006 को प्रतिवर्ष विश्व हिंदी दिवस (10 जनवरी) के रूप में मनाए जाने की घोषणा की थी।
  • राष्ट्रीय हिंदी दिवस तथ्य
  • गौरतलब है कि यह दिवस 14 सितंबर को मनाए जाने वाले राष्ट्रीय हिंदी दिवस का एक भाग है।
  • 14 सितंबर, 1949 को संविधान सभा ने हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया था।
  • संवैधानिक तथ्य
  • भारतीय संविधान के अनुच्छेद 343(1) में हिंदी को देवनागरी लिपि में राजभाषा का दर्जा दिया गया है।
  • भारतीय संविधान के अनुच्छेद  343-351 तक राजभाषा संबंधी संवैधानिक प्रावधान किए गए हैं।

लेखक-रमेश चंद्र